Android Root क्या होता है | Rooting के फायदे और नुकसान

Android Rooting
 What is Root in hindi आपको पता है Android Root क्या होता है। और इसके फायदे और नुकसान क्या क्या है। दोस्तों मुझे बहुत से Android users ने पूछा है कि ये Rooting क्या होता है और इससे हम अपने मोबाइल में क्या क्या कर सकते है तो आज में इस पोस्ट में आपको rooting के बारे में हर चीज़ बताने जाऊंगा और साथ ही साथ ये भी बताऊँगा की rooting के क्या फायदे होते है और क्या नुकसान। तो चलिए शुरू करते है।

What is Rooting

"Rooting" या "Root" इसके नाम से ही आप समझ गए होंगे यानी "जड़" । जैसे पेड़ की जड़ अंदर तक रहती है उसी तरह Rooting वो प्रक्रिया कहलाती है जिसमे आप अपने Mobile के जड़ तक जा सकते है। अगर आप मोबाइल के अंदर तक चले गए तो फिर अपने मोबाइल को जैसे चाहे वैसे customize कर सकते है।

जब आप किसी भी Android phone को घर लाते है तो उसमें आपको एक oprating system भी मिलता है जैसे - JellyBean, Lollipop, marshmallow, आदि। तो ये सब पहले से ही design हो कर आती है जिसमे हम कुछ बदलाव नहीं कर सकते। पर कभी कभी इन systems में कुछ कमी निकल जाती है और इसी कमी का फायदा उठाते हुए कोई Developer एक ऐसा software बनाता है या कोई ऐसा तरीका निकलता है जिससे आप उस कमी के अंदर से होते हुए उन सारी बाधाओं को तोड़ देती है जो आपको उन पेहले से installed oprating System के साथ मिलता है इसी को Rooting कहा जाता है।

इससे ये भी साफ़ होता है कि Rooting कोई official चीज़ नहीं है जो Android के लिए बनी है ये तो सिर्फ mobile की कमियों को निकाल कर अपने फायदे के लिए होती है।


Mobile Root लोग क्यों करते है।

android rooting hindi

अगर आप एक Android User है तो आप समझ लो की आप बंधे हुए हो या कहे की आपको अपना मोबाइल इस्तमाल करने का Limit दिया जाता है। आप अपने android में सिर्फ कुछ ही changes कर सकते है और आपको उन्ही Apps से काम चलना होगा जो आपको दिए जाते है। पर rooting इन सारे बाधाओं को तोड़ देता है।

Rooting से आपका पूरा फ़ोन unlock हो जाता है। आप वो सब भी कर सकते है जो आपको बिना रुट नहीं कर सकते वो मै आपको अभी निचे बताऊँगा।

Rooting में SuperUser नाम एक जाना पहचाना होता है यानी आप एक साधारण User की जगह एक SuperUser बन जाते है जिसके पास एक special Power आजाती है जिससे आप जो चाहे वो कर सकते हो।

Jailbraking क्या होता है।

Jailbraking और Rooting एक जैसी होती है जैसे हम Android की कमियों को तोड़ कर उसका फायदा उठाते है उसी तरह Apple के IOS की कमियों को तोड़ना Jailbraking कहलाता है यानी हम इसको Apple की Rooting कह सकते है। इसके बारे में मै आपको दूसरे पोस्ट में विस्तार से बताऊँगा पर अभी हम Rooting की बात कर रहे है।


Rooting के नुकसान 【 DisAdvantages 】


#1 - Mobile Warranty 


जब आप अपने मोबाइल फ़ोन को root करते है तो आपकी मोबाइल Warranty वही खत्म हो जाती है। क्योंकि देखा जाए तो Rooting आपके मोबाइल कंपनी के खिलाफ है और जब आप अपने मोबाइल को root कर देते है तब आप अपने मोबाइल को पूरा open कर देते है और जो आपकी मोबाइल कंपनी है वो users के uses को देखते हुए limitation के साथ mobile देती है तो अगर आपने मोबाइल root कर लिया है और आपके मोबाइल में इसके बाद कुछ गड़बड़ आती है तो आप इसको customer care के पास भी नहीं ले जा सकते वो वहीँ से आपको मना कर देगा। अगर आप बड़े ब्रांड जैसे - Motorola, Samsung, Sony ,आदि को रुट करते हों तो आपकी warrany खत्म हो जायेगी।


पर कुछ कंपनियाँ ऐसी भी है जो Rooting को मोबाइल में सही मानती है और अगर आपने उन phones में rooting किया तो उसकी warranty पर भी कोई असर नहीं पड़ेगा जैसे - Xiaomi, One plus, आदि Chinese phone कंपनियां । आप इनमे Rooting कर सकते है।


#2 Mobile Brick / Dead


Rooting करते समय एक खतरा हमेशा मंडराता रहता है वो है मोबाइल का Dead हो जाना है। ये Rooting के मामले में हर 20% से 30% फ़ोन में हो ही जाता है।  इससे आपका मोबाइल पूरा बंद पद जाएगा और सिर्फ एक metal के टुकड़े के अलावा कुछ नहीं रहेगा।


ये गलती कैसे हो जाती है?
जब कोई अपना मोबाइल root करता है तब अगर उसने कोई ऐसा Step miss कर दिया जो Rooting के प्रक्रिया के दौरान होती है तब आपका मोबाइल Dead हो सकता है। इससे बचने के लिए Root करने के सारे Instructions ढंग से पढ़ ले और कोई भी Step न छोड़े।

अगर आपका मोबाइल Dead हो जाता है तो उसको फिर से ठीक करना बहुत मुश्किल हो जाता है। वो आपके उसपर depend करता है कि जब आप अपना mobile root कर रहे थे तो आपने किस तरह से Root कर रहे थे। मै आपको बता दूँ की Root 2 तरह से होता है मै आपको निचे बताऊँगा ।

#3 Insecurity

Root करने का सबसे बड़ा नुकसान यही है कि आपका मोबाइल insecure हो जाता है । आपका मोबाइल खतरों से बढ़ जाता है। जैसा की मैंने आपको बताया जब आपका मोबाइल root नहीं होता तो वो limitation में रहता है पर अगर आप उसे root करते है तो वो हर limit को तोड़ देता है। उसी तरह Android में आपको android security मिलती है जो आपको virus और बाकी सब से बचाता है पर रुट होने के बाद android की security भी हट जाती है और आपका मोबाइल खतरों से बढ़ जाता है जिसमे कभी भी virus आ सकता है।

#4 Hacking Risk

जैसा की मेने आपको ऊपर insecurity के बारे में बताया ये भी उसी का एक हिस्सा है जिसमे अगर मोबाइल रुट होने के बाद अपने कुछ भी छोटी सी गलती करी तो आपका मोबाइल hack हो सकता है। Rooting आपके मोबाइल में hackers के लिए एक BackDoor खोल देता है जिससे हैकर आपके Privacy के साथ छेड़ छाड़ कर सकता है और आपका पूरा डाटा जैसे Email, Password, Bank Details, आदि चुरा सकता है।

#5 Data Loss


जब आप अपना Mobile Root कर रहे होते है तो तब सबसे बड़ा डर ये होता है कि आपके मोबाइल का सारा Data उड़ जाता है जैसे :- Photos, Apps, Videos, contacts, अदि। इससे बचने के लिए अपने डाटा का BackUp जरूर लेले ताकि अगर आपका Rooting के वक़्त डाटा उड़ भी गया तो आप उसको वापस प्राप्त कर सकते है।

#6 No Updates

जब आप अपने Mobile को Root कर लेते है तो तब आपका Android वाही से आपको Updates एंड Upgrades देना बंद कर देता है। आप फिर officialy कोई Update नहीं कर सकते। फिर आपको Custom Rom के साथ manually Update करना होगा।

तो दोस्तों ये हो गयी है Rooting के नुकसान ( Disadvantages) अब हम बात करते है Rooting के फायदों ( Advantages) की।


Rooting के फायदे 【 Advantages 】

#1 Battey Life

जी हां आपने बिलकुल सही सुना Rooting से बैटरी लाइफ सुधरती है या कहे तो बढ़ती है। ऐसा क्यों क्योंकि Rooting के बाद अब आप सारे background में चल रहे apps को पूरे तरीके से kill कर सकते हों जिससे आपकी मोबाइल बैटरी Boost हो जाती है।

#2 Memory Increase

Root से आपके मोबाइल की memory बढ़ जाती है। क्योंकि आप उन Files को भी delet कर सकते है जो आप बिना root किये हुए files को छू भी नहीं सकते । वो files कही न कही आपके mobile memory को खाती है पर अब आप उन फाइल्स को delet कर सकते हो और मेमोरी को बढ़ा सकते हो।

Root के बाद आप अपने सारे apps को जो mobile की memory में save होते थे उसे shift करके अपने memory card में कर सकते हो जो बिना rooting के संभव नहीं है। क्योंकि Rooting के बाद आपके External memory internal memory में convert हो जाती है।


#3 Install All Apps

Rooting के बाद आप हर उस apps को चला सकते हो जो आप बिना rooting के नहीं चला सकते थे। Root के बाद कुछ ऐसे apps का permision आपके पास आ जाता है जो किसी Magic से कम नहीं होते ।

#4 Uninstall System Apps

आपने देखा होगा अब आप नया नया मोबाइल ले कर आते हो तो आपके मोबाइल में कितने सारे फालतू के apps भरे होते है और वो Uninstall भी नहीं हो पाते इसका उदाहरण आप Samsung के मोबाइल में देख सकते हो। पर जब आप अपना मोबाइल रुट कर लेते हो तो आप सारे apps को Uninstall कर सकते हो जिससे आपकी मोबाइल की performance भी बढ़ेगी।

#5 Full System Backup

रुट करने के बाद अगर आपके मोबाइल में जो भी permanently डिलेट हो गया हो या बहुत पहले का delet हुआ कोई File, photo, अदि हो वो सब आप रुट करने के बाद मोबाइल में वापस ला सकते हो। क्योंकि कुछ ऐसे apps है जो आपके deleted चीज़ों का BackUp कर देता है।

#6 Install OS and Custom Rom

अगर आपके मोबाइल में Android का JellyBean है और आप उसको Lollipop या Marshmello या उससे भी ऊपर update करना चाहते हो तो Root करने के बाद आप जिस चाहे उस Android के Version के साथ अपडेट कर सकते हो।

यही नहीं आप अपने पूरे मोबाइल को Customize कर सकते हों यानी आप मन मुताबिक मोबाइल में Changes कर सकते हो जैसे - Apps के design बदलना, internaly brand के logo को change करना, जैसे चाहे वैसे थीम install करना, आदि

#7 Hacking Device

एक Rooted Mobile किसी Hacking Device से कम नहीं होता। आप उस Mobile के साथ बहुत कुछ Hack कर सकते है जैसे - WiFi । यही नहीं market में कुछ ऐसे apps है जो आपको आपके Rooted Mobile से ही एक प्रॉफ़ेशनल Hacker बना सकते है। आप Kali Linux जैसे hacking apps को Install कर सकते है। अगर आपको पता नहीं है कि kali linux क्या होता है तो मै अगले post में kali linux और उन सारे apps के बारे में बताऊँगा जिससे आप Hacking कर सकते है अपने Rooted Mobile से।

तो अब हमने Rooting के फायदे और नुकसान की बात कर ली और ये भी जान लिया की Root क्या होता है अब हम ये देखते है कि Rooting कितनी प्रकार की होती है।

Rooting कितने प्रकार की होती है

Soft Rooting - ये Rooting बहुत easy होती है और ज्यादा नुकसान भी नहीं देती इसे 1 Click Root भी kehte है। यानी आप simply किसी एक App द्वारा एक click में root कर सकते है। और फिर उसे Unroot भी कर सकते हो सिर्फ एक ही Click में इसके लिए सबसे अच्छा App है "KingRoot" । अगर आप जाना चाहते है कि एक click में Root कैसे करे तो मेरे अगले पोस्ट का इंतज़ार करें।

Hard Rooting - ये Rooting Computer द्वारा की जाती है और इसको करने के लिए आपको कुछ Coding करनी छोटी है यानी कुछ Codes लिखने होते है। ये Rooting थोड़ी मुश्किल होती है और इस प्रक्रिया में Mobile ख़राब होने का डर ज्यादा होता है।
Hard Rooting के बाद उसको Unroot करना बहुत मुश्किल हो जाता है।

Mobile Root करने से पहले इसे जरूर पढ़े

मै ये नहीं कहता की आप अपने मोबाइल को Root न करे पर Root करने से पहले अपने आप से जरूर पूछ लें की आप अपने मोबाइल को क्यों Root करना चाहते हैं आपका मकसद क्या है और क्या आप उन नुकसान को भी सह सकते है जो Root के दौरान हो सकती है।

पहले के Android Mobile में भी कुछ ऐसे कामो को करने के लिए Root करना पड़ता था जो आज के मोबाइल बिना Root के कर देते है क्योंकि Android हमेशा अपने नए Versions को इस तरह से बनाने की कोशिश करता है ताकि आप उन apps को चला सके जिसके लिए आपको Root करना पड़ता है। जैसे - पहले Mobile Screen Recording के लिए Root करना जरुरी होता था पर Android के lollipop में बिना Root किये इस feature का फायदा उठा सकते है।

तो दोस्तों ये था मेरा आज का पोस्ट Mobile Rooting क्या होता है और इसके फायदे और नुकसान।
अगर आपको Technology, Android, hacking, Blogging, Earn Money Online और Cyber Security से जुडी जानकारी लेनी है तो हमारे ब्लॉग को Subscribe कर लें। और इसको अपने दोस्तों के sath Share करना न भूलें।

Thankyou For Reading😊

Oldest